amla ka achar banane ki vidhi 30 मिनट में घर पर।

आंवले से बनी यह amla ka achar banane ki vidhi, जिसे आंवला के नाम से जाना जाता है, एक आंध्रा शैली का मसालेदार और सुपर स्वादिष्ट आंवला अचार या आंवला का अचार है। यह amla ka achar recipe in hindi करौदा अचार शाकाहारी के अनुकूल है, बस कुछ बुनियादी सामग्रियों का उपयोग करता है और amla ka achar banane ka tarika को बहुत ही आसानी तरीके से बनाया जा सकता है। आप इसे बनाकर फ्रिज में भी रख सकते हैं।

amla ka achar banane ki vidhi के बारे में कुछ जानकारी

amla ka achar banane ki vidhi

जब से मैंने आंध्र प्रदेश में amla ka achar banane ki vidhi, जिसे आंवला अवकाया के नाम से भी जाना जाता है, amla ka achar recipe in hindi के लिए कुछ YouTube वीडियो देखे थे, तब से मैं इसे अपने घर की रसोई में भी बनाना चाहता था।

amla ka achar banane ki vidhi जैसे और भी अचार रेसिपी – Nimbu ka Achar and Aam Ka Achar

amla ka achar kaise banaye बनाने के लिए मैंने अपनी सामग्री के साथ amla ka achar recipe in hindi बनाया और साथ ही मूल amla ka achar banane ki recipe में कुछ और चरण जोड़े। अंतिम उत्पाद उतना ही शानदार है और आप इसे केवल कोशिश करने के बाद ही जानेंगे।

मेरे परीक्षण के परिणामस्वरूप एक मसालेदार amla ka achar banane ki vidhi बनी, जिसमें आंवला का खट्टा स्वाद सरसों और तिल के तेल के देहाती और बहुत मिट्टी के स्वाद के साथ उत्कृष्ट रूप से विलीन हो जाता है। अगर आपको तिल का तेल पसंद नहीं है, तो आप इसे मूंगफली या सूरजमुखी के तेल से भी बना सकते हैं।

amla ka achar banane ki vidhi के स्वाद को चखने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि इसे भरवां पराठे, सांबर-चावल, दाल-चावल या दही चावल के साथ बनाया जाए। या बस इसे थोड़े से उबले हुए चावल के साथ मिलाएं और अच्छाई का आनंद लें।

आंवले का अचार कैसे बनाएं – amla ka achar kaise banate hain

1. सबसे पहले 250 ग्राम आंवला या आंवले को पानी में कुछ बार धो लें। फिर, उन्हें एक साफ किचन टॉवल से पोंछकर सुखा लें। आंवले पर पानी या नमी का कोई निशान नहीं होना चाहिए। सूखे और साफ चम्मच या कटोरे का उपयोग भी सुनिश्चित करें।

2. फिर, ग्राइंडर में 2 बड़े चम्मच राई और ¼ छोटा चम्मच मेथी दाना डालें।

3. पीसकर सेमी फाइन पाउडर बना लें। एक तरफ रख दे।

amla ka achar banane ka tarika के लिए आंवला पकाएं

4. आंवले को काट कर बीज निकाल लीजिये। आंवला काटने में समय लगता है।

यदि आंवला आकार में छोटा है, तो आप उन्हें पूरा रख सकते हैं, लेकिन उनमें से प्रत्येक को कुछ चीरे दें ताकि वे पकाते समय तेल में फटे नहीं। मैंने उन्हें काट लिया क्योंकि मैं नहीं चाहता था कि खाते समय बीज मुंह में आएं।

5. एक कढ़ाई या पैन में ⅓ कप तिल का तेल गरम करें।

6. कटे हुए आंवले के टुकड़े डालें। अच्छी तरह मिलाएं।

8. पैन को ढक दें और आंवले के टुकड़ों को पकने दें। बीच-बीच में चेक करते रहें।

9. आपको आंवले के टुकड़ों को सुनहरा होने तक पकाने की जरूरत नहीं है। इन्हें नरम होने तक पकाना चाहिए। चाकू को कुछ टुकड़ों में से सरकाएं और यह आसानी से सरक जाए। मध्यम-कम आंच पर इसे पकाने में लगभग 6 से 7 मिनट का समय लगता है।

10. आंवले के टुकड़े पक जाने के बाद आंच बंद कर दें। 2 से 3 मध्यम लहसुन की कलियाँ (कुचली हुई) डालें। अच्छी तरह मिलाएं और इस मिश्रण को गर्म होने दें। लगभग 10 मिनट के लिए अलग रख दें। आंवले के टुकड़े कढ़ाई में ही रहने दीजिये।

amla ka achar kaise banaye – आंवला का अचार कैसे बनता है

amla ka achar kaise banaye

11. जब आंवला और तेल का मिश्रण गर्म हो जाए तो उसमें 3 टेबल स्पून लाल मिर्च पाउडर, 1 टी स्पून हल्दी पाउडर, 1 से 1.5 टेबल स्पून नमक और तैयार पिसी हुई राई और मेथी पाउडर डाल दें।

सबसे पहले 1 टेबल स्पून नमक डालें। बहुत अच्छी तरह मिलाएँ। अगर आपको कम लग रहा है तो थोडा़ सा नमक और मिला लें। अगर अचार का स्वाद ज्यादा नमकीन है, तो ठीक है, अचार के पक जाने पर अतिरिक्त नमकीन स्वाद चला जाता है।

12. अच्छी तरह मिला लें और आंवले के अचार के मिश्रण को कमरे के तापमान पर ठंडा होने दें।

13. अब इसमें 1 बड़ा चम्मच नींबू का रस डालें। दोबारा मिलाएं।

14. अचार को साफ कांच के जार में भर कर रख लीजिये। ढक्कन से ढककर एक तरफ रख दें।

amla ka achar banane ki recipe के लिए टेम्पर

15. एक छोटे पैन में ¼ कप तिल का तेल गरम करें। यह कदम वैकल्पिक है और इसे छोड़ा जा सकता है।

16. आँच को कम रखें और ¼ चम्मच हींग डालें।

17. अच्छी तरह मिलाएं और आंच बंद कर दें। इस तेल को कमरे के तापमान पर पूरी तरह से ठंडा होने दें।

18. फिर इस तड़के को अचार के जार में डाल दें।

19. थोड़ा तेल ऊपर तैरने लगेगा और यह ठीक है। जार को ढक्कन से ढक दीजिये और अचार को 3 से 4 दिन के लिये पकने दीजिये। सूखे स्थान पर रखें।

20. 3 से 4 दिन बाद आंवला अचार तैयार हो जायेगा। आंवले का अचार अपने रोज के खाने के साथ परोसिये। अचार का उपयोग शुरू करने के बाद इसे फ्रिज में रख दें।

amla-ka-achar-banane-ki-vidhi

amla ka achar banane ki vidhi

यह आंवला अचार एक आंध्रा शैली का मसालेदार और स्वादिष्ट अचार है जिसे भारतीय आंवले, मसालों, तिल के तेल और नींबू के रस से बनाया जाता है। इस आंवले के अचार की रेसिपी को किसी भी तरह की धूप की जरूरत नहीं है।
Prep Time 20 mins
Cook Time 10 mins
Total Time 30 mins
Course Side Dish
Cuisine Indian

Ingredients
  

  • 250 ग्राम आंवला
  • कप तिल का तेल
  • 2 से 3 लहसुन की कलियां
  • 2 बड़े चम्मच सरसों के बीज
  • ¼ छोटा चम्मच मेथी दाना
  • 3 बड़े चम्मच लाल मिर्च पाउडर
  • 1 छोटा चम्मच हल्दी पाउडर
  • 1 से 1.5 टेबल स्पून नमक या आवश्यकतानुसार डालें
  • 1 बड़ा चम्मच नींबू का रस
  • ¼ कप तिल का तेल – बाद में डालने के लिए
  • ¼ छोटा चम्मच हींग

pro tips

1. यह amla ka achar banane ki vidhi मसालों के मीटर में काफी ऊपर है। amla ka achar recipe in hindi में अगर आप कम तीखा चाहते हैं तो लाल मिर्च पाउडर की मात्रा कम कर दें।

2. मैं अचार बनाते समय अच्छी मात्रा में तेल का उपयोग करता हूँ क्योंकि यह अचार की शेल्फ-लाइफ को बढ़ाने में मदद करता है। आप चाहें तो कम तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

3. इस amla ka achar banane ki vidhi में आप तिल के तेल की जगह सूरजमुखी के तेल या मूंगफली के तेल से भी बना सकते हैं।

4. आंवला अचार की यह amla ka achar banane ki recipe आपको एक छोटा बैच देगी। अचार को प्लास्टिक जार में नहीं बल्कि कांच के जार या सिरैमिक जार में भर कर रखिये।

5. इस amla ka achar banane ki vidhi के लिए धूप की जरूरत नहीं है। इसलिए आप इस अचार को आसानी से बना सकते हैं जब आपको पर्याप्त धूप नहीं मिलती है या आसमान में बादल छाए रहते हैं।

पूछे जाने वाले प्रश्न – faq

क्या मैं नींबू के रस को इमली से बदल सकता हूँ? 250 ग्राम आंवला के लिए मुझे कितनी इमली का उपयोग करना चाहिए?

जी हां, आप इमली के गूदे का इस्तेमाल कर सकते हैं। 250 ग्राम आंवला के लिए 2 बड़े चम्मच इमली का पेस्ट इस्तेमाल करें। यदि आप अधिक खट्टा स्वाद चाहते हैं, तो 3 बड़े चम्मच का उपयोग करें। इमली के पेस्ट को थोड़े से पानी के साथ पकाना / उबालना सुनिश्चित करें ताकि कच्चा स्वाद और सुगंध चली जाए। पकी हुई इमली गाढ़ी होनी चाहिए।

इस रेसिपी में मैं और कौन सा तेल इस्तेमाल कर सकता हूँ?

आप तिल के तेल की जगह सूरजमुखी का तेल या मूंगफली का तेल इस्तेमाल कर सकते हैं। सरसों के तेल को तीखे के रूप में प्रयोग करने से बचें।

क्या मैं नींबू के रस की जगह सिरका मिला सकता हूँ?

निश्चित रूप से, आप ऐसा कर सकते हैं।

अगर मैंने ताज़े आंवले की जगह फ्रोजन आंवला रखा है, तो क्या मैं उसका इस्तेमाल कर सकता हूँ?

जी हां, आप जमे हुए आंवले का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। बस पहले उन्हें पिघला लें। फिर, कुल्ला, सारा पानी निकाल दें और आंवले को किचन पेपर टॉवल या कॉटन नैपकिन पर रखें ताकि नमी सूख जाए। फिर, amla ka achar banane ki vidhi के साथ आगे बढ़ें।

आशा है कि आप इस amla ka achar banane ka tarika को पसंद करेंगे जितना हम करते हैं। आशा करता हूँ amla ka achar kaise banate hain बनाने का तरीका समझ में आगया होगा आप को। आप इसे अपने घर पर बनाए और पूरे परिवार के साथ इस ब्यंजन का आनंद ले।

यदि आप को मेरा बनाया यह amla ka achar banane ki vidhi अच्छा लगा तो आप मुझे कमेंट करें और Khane Ki Farmaish Blog को Follow करे ताकि में आप लिया ऐसे और भी अच्छे अच्छे रेसिपी ला सकूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recipe Rating